मथुरा- कांग्रेस के बरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद पहुचे मथुरा ,-मथुरा जोड़ो को लेकर निजी होटल में की प्रेस वार्ता ,3 जनवरी को कांग्रेस कार्यकर्ताओं से गाजियाबाद पहुंचने की अपील की ,,,,राम जन्मभूमि ,कृष्ण जन्मभूमि को लेकर दिया बयान ,भगवान राम को लेकर RSS ओर बीजेपी पर भी किया कटाक्ष ,डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक पर भी कसा तंज ,हम पूरे उत्तर प्रदेश में हर जगह नहीं पहुंच सकते, आज मथुरा पहुंचने का उद्देश्य 3 जनवरी को गाजियाबाद में कांग्रेसियों को यहां से एकजुट कर पहुंचाना है, कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक भारत जोड़ो हमारी यात्रा है, इस समय भारत मैं बहुत कुछ देखने को मिल रहा है, इस समय भारत को जोड़कर चलने की जरूरत है, आम जनता को भ्रमित किया जा रहा है, कभी-कभी ऐसा लगता है कि आपस के संबंध इस दौर में बिखर ना जाएं, राहुल जी इसी लक्ष्य को लेकर भारत को जोड़कर चल रहे है ,और लगातार यात्रा कर रहे हैं, सड़कों पर देखा जा रहा है कि हजारों की संख्या में लोग उनके स्वागत के लिए उमड़ रहे हैं, इस यात्रा के दौरान यह भी देखा जा रहा है, कि नौजवानों को रोजगार की समस्या है, किसानों को भी बड़ी समस्या है, तमाम उन समस्याओं से हम रूबरू अभी हो रहे हैं, सैनिकों के सम्मान का भी ध्यान रखा जा रहा है, बीजेपी के आरोप है कि यह यात्रा टूटी कांग्रेस को जोड़ने की है, –सलमान खुर्शीद ने कहा कि हम अगर टूटी कांग्रेस को जोड़ रहे हैं, तो इसमें गलत क्या है हम तो हर किसी को जोड़ना चाहते हैं,भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा के भाजपा को भगवान राम के नाम से तकलीफ है, या फिर सलमान के नाम से, क्या मैं भगवान राम का नाम नहीं ले सकता ,मैं मथुरा में हूं भगवान श्री कृष्ण का नाम नहीं ले सकता ,हमारा मजब कुछ भी हो एक देश की एक भारतीयता की एक व्यवस्था भी है, इसमें हर मजहब का सम्मान भी है, जो हमारे बहुसंख्यक लोग उत्तर प्रदेश में है उनकी आस्था जिनमें है, जिनका अगर मैं सम्मान करुं तो उन्हें ठेस क्यों लगती है, यह सम्मान को भी अपमान मानते हैं, वह मुझे यह ना बताएं कि तुम भगवान से संबंधित नहीं हो सकते ,भगवान सबके हैं, ईश्वर अल्लाह तेरा नाम सबको सनमति दे भगवान यह महात्मा गांधी ने सुनाया है, हम बीजेपी या r.s.s. की स्क्रिप्ट पर नहीं चलते हैं, मैंने भगवान राम की जीवनी से प्रेरित होकर खड़ाऊ वाला बयान दिया था, मैं अगर अपने आपको अगर किसी की खड़ाऊ बना लूं तो उन्हें क्या दिक्कत है, मुझे यह बताने की जरूरत नहीं है, कि हमारी संस्कृति में भगवान राम की क्या अहमियत है,राम मंदिर में दर्शन करने के लिए जाने के सबाल पर सलमान खुर्शीद ने कहा –कि हमारे लोगों को कभी इन्होंने वहां बुलाया नहीं, हमने राम जन्मभूमि विवाद पर कहा था कि बाहर बैठकर समझौता कर लो, लेकिन बैठकर समझौता हो सकता है, सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला आया उसका हमने स्वागत किया, भगवान के दरवाजे किसी के लिए बंद नहीं हो सकते,यूपी के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक कहते हैं कि आप लोग हमारी वजह से भगवान राम का नाम लेना सीख गए, बृजेश पाठक तो वकील है ना ,उन्हीं की वजह से मैं बकालात भी सीखा ,एक बात मैं उनसे नहीं सीख पाया पार्टी बदलना और सारी चीजें सीख गया,श्री कृष्ण जन्म भूमि विवाद मामले पर कहा यहां के जानकारों से मेरी बात हुई है उन्होंने कहा है, कि अभी केवल अमीन की रिपोर्ट उसमें मांगी है, सर्वे और अमीन की रिपोर्ट में थोड़ा अंतर होता है, कोर्ट जो निर्देश दे रहा है, उसका अनुपालन होगा, आगे क्या बात बनती है वह देखना होगा लेकिन मैं यह जानता हूं मथुरा के लोग शांति सौहार्द चाहते हैं,पत्रकारों के सवाल कि आपने कहा था कि राम जन्मभूमि का मुद्दा हम बाहर बैठकर सुलझा सकते थे, तो क्या कृष्ण जन्मभूमि के लिए पहल करेंगे,सलमान खुर्शीद ने जवाब देते हुए कहा मथुरा में अगर बात करने का हुआ तो होगा ना आज कैसे बता दूं, बिना मथुरा के लोगों से जाने अगर मैं पहले से कह दूं कि हम पहल करेंगे, दूसरा कह देगा कि हम नहीं कर रहे तो कैसे करेंगे, अगर पहले और किसी से कुछ बनता है तो यहां के लोग पहल करेंगे, कल को आप कहेंगे कि हम कह रहे थे, समझौता कराने की लेकिन तुमने कराया नहीं, मथुरा के लोगों पर भी कुछ बोझ डालिए सारा बोझ मुझ पर मत डालिए,नगर निकाय चुनाव को लेकर सवाल किया तो कहा कि कांग्रेस पूरी तरह से तैयार है

Leave a Reply

Your email address will not be published.